बाल कारागार में किशोर की मौत

सीतापुर। जिले के गोंदलामऊ थाना क्षेत्र के करसेहड़ा गांव निवासी एक किशोर की लखनऊ के बाल कारागार मे संदिग्ध हालात मे मौत हो गई। उसका शव लेने के लिए परिजन लखनऊ पहुंच गए हैं। संदना थाना क्षेत्र के करसेहड़ा गांव निवासी शिवपूजन पुत्र कल्लू के विरुद्ध 14 जुलाई 2016 को गांव के ही रामपाल पुत्र रामकिशुन ने 377 व 3/4 आईपीसी पास्को एक्ट 3(1) 10 एससी एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया था।

तब उसे हिरासत मे लेकर बाल संप्रेक्षण गृह हरदोई भेजा गया था। उसके बाद वहां से उसे लखनऊ स्थानांतरित कर दिया गया था। मृतक की मां ने बाल कारागार के कर्मचारियों पर मारपीट का आरोप लगाया था ।

मृतक की मां मैकिन ने अपने किशोर पुत्र शिवपूजन से इसी 9 अगस्त को पेशी पर बात की थी। तब उसने जेल कर्मियों के ऊपर पुत्र को जेलकर्मियों पर मारने पीटने का आरोप लगाया था। साथ ही यह भी बताया था कि मारपीट की वजह से मेरा बेटा चलने फिरने मे असमर्थ हो गया है। इसीलिए मेरे बेटे शिवपूजन को लखनऊ के बोर्ड के समक्ष नहीं लाया गया है।

मैकिन ने न्यायालय प्रधान मजिस्ट्रेट, किशोर न्याय बोर्ड सीतापुर से डाक्टरी परीक्षण की जांच कराए जाने की मांग की गई थी। यदि तभी आरोपी मां की इन दलीलों पर ध्यान दिया गया होता तो शायद शिवपूजन की जान न गई होती।

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *