Family  के किसी भी सदस्य को मिल सकेगा खाद्यान्न

लखनऊ । खाद्य सुरक्षा योजना के अन्तर्गत परिवार की महिला मुखिया के नाम बने राशन कार्ड पर खाद्यान्न वितरण में शिथिलता बरती गयी है। महिला मुखिया के न पहुंच पाने की दशा में कार्ड में दर्ज परिवार के किसी भी सदस्य को खाद्यान्न सूपुर्द किया जा सकेगा।

उत्तर प्रदेश सस्ता गल्ला विक्रेता संघ के प्रदेश अध्यक्ष अशोक मेहरोत्रा की मांग पर प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद ने इस आशय के निर्देश जारी किये हैं। खाद्य सुरक्षा योजना के तहत गरीब परिवारों की महिला मुखिया के नामों पर बनाये गये राशन कार्ड पर मिलने वाले खाद्यान्न का वितरण बायोमैट्रिक प्रणाली से दिया जाता है।

कार्ड धारक का अंगूठा मशीन पर लगाने पर एक रसीद निकलती है जिसमें कार्ड धारक का नाम व मिलने वाले खाद्यान्न का वजन व कीमत दर्ज होती है, लेकिन खाद्यान्न लेने के लिए कार्ड धारक महिला का दुकान पर जाना अभी तक जरूरी होता था।

इसके चलते कभी-कभी परिवार की महिला मुखिया की तबियत खराब होने या फिर बाहर जाने की दशा में उसे अनाज नहीं मिल पाता है। उत्तर प्रदेश सस्ता गल्ला विक्रेता संघ लम्बे समय से इसमें बदलाव किये जाने की मांग कर रहा था, जारी निर्देश में अगस्त माह की 20 से 26 तारीख के बीच होने वाले वितरण में महिला मुखिया के न आ पाने की दशा में परिवार का कोई भी सदस्य जिसका नाम कार्ड में दर्ज हो वह अपना पहचान पत्र लेकर खाद्यान्न लेने जा सकता है।

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *