स्पाइसजेट एयर होस्टेसों ने कंपनी पर लगाया सनसनीखेज आरोप

इंडिया डेस्क। शनिवार सुबह स्पाइस्जेट एयरलाइंस की एयरहोस्टेस ने चेन्नई में प्रदर्शन किया। उनका यह विरोध प्रदर्शन एयरलाइन के की सुरक्षा​कर्मियों द्वारा कथित तौर पर उनके कपड़े उतरवा कर तलाशी लिए जाने के विरोध में था।

महिला कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि पिछले कुछ दिनों से फ्लाइट से डि-बोर्ड करने के बाद कपड़े उतरवा कर उनकी तलाशी ली जा रही है। सुरक्षा कर्मचारियों ने कथित तौर पर एयर होस्‍टेस के हैंडबैग्‍स से सैनिटरी पैड्स तक निकालने को कहा।

आश्वासन के बाद केबिन क्रू लौटा काम पर

विरोध शुरू होने पर स्पाइस्जेट एयरलाइंस का मैनेजमेंट सकते में आ गया। जिसके बाद यह खबर गुडगांव आफिस तक जा पहुंची। जिस पर स्पाइसजेट मैनेजमेंट ने गुड़गांव ऑफ‍िस में उच्‍चस्‍तरीय बैठक कराने का आश्‍वासन दिया।

जानकारी के मुताबिक, केबिन क्रू के विरोध के चलते चेन्‍नई एयरपोर्ट की दो फ्लाइट्स में करीब एक घंटे की देरी हुई। कथित रूप से चेन्‍नई एयरपोर्ट पर लिया गया एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इसमें यूनिफॉर्म पहने कुछ एयरहोस्‍टेस व सादी ड्रेस में कुछ महिलाएं कपड़े उताकर तलाशी लिए जाने की शिकायत कर रही हैं।

वीडियो में एक केबिन क्रू मेंबर ने सुनाई आपबीती

वायरल हो रहे वीडियो में एक महिला अपनी पीड़ा व्यक्त करते हुए दिखायी दे रही थी। उसने कहा कि किसी ने मुझे गलत तरीके से छुआ, मैं बहुत असहज हो गई। मैं नग्‍न थी।

विरोध कर रहे केबिन क्रू का आरोप था कि एयलाइंस को शक है कि वह खाने और अन्‍य सामानों की बिक्री से मिले कैश में हेरफेर करती हैं। उन्‍होंने आरोप लगाया कि फ्लाइट्स से डि-बोर्ड करने के बाद उन्‍हें वॉशरूम जाने की इजाजत नहीं दी जाती।

वहीं इस मामले में एक एयरहोस्टेस ने बताया कि हम एयर होस्‍टेसेस की पिछले तीन दिनों से कपड़े उतरवा कर तलाशी ली जा रही है और महिला कर्मचारी हमें गलत ढंग से छूती हैं। माहवारी के दौरान एक साथी को उसकी सैनिटरी नैपकिन हटाने को कहा गया

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

2 thoughts on “स्पाइसजेट एयर होस्टेसों ने कंपनी पर लगाया सनसनीखेज आरोप

  • April 15, 2018 at 4:47 pm
    Permalink

    ये कैसे सुरक्षा नियम है।

    Reply
  • April 19, 2018 at 12:47 pm
    Permalink

    ये क्या हो रह है।

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *