राष्ट्रगान को लेकर कुछ लोग कर रहे Politics -श्रीकांत

लखनऊ । प्रदेश के काबीना मंत्री श्रीकांत शर्मा ने स्वतंत्रता दिवस के मौके पर सूबे के रामपुर जिले के मदरसे में तिरंगा व राष्ट्रगान के मामले में सरकारी आदेशों के अनुपालन न किये जाने पर कहा है कि इसे लेकर कुछ लोग निजी स्वार्थ के कारण राजनीति कर रहे है जो बिल्कुल गलत है और हम इसकी कड़े शब्दों में निन्दा करते है। कानून सबके लिए एक जैसा है, देश एक है और कानून का अनुपालन सबके द्वारा होना चाहिए। दुर्भाग्य की बात यह है कि 70 साल बाद भी इस प्रकार के सर्कुलर जारी करने पड़ रहे है।

क्योंकि अबतक जो लोेग सत्ता में रहे उन्होने सत्ता का दोहन किया और एक वर्ग विशेष को सिर्फ वोट बैंक के तरीके से देखा जबकि देश सबका है, 70 साल बाद भी इस तरह की चर्चाए होना अफसोस जनक है इसका श्रेय पूरी तरह पूर्ववर्ती सरकारें जिम्मेदार हैं।

श्री शर्मा गुरूवार को यहां प्रदेश भाजपा मुख्यालय में अपनी समस्याओं को लेकर आये आमजन की दुख-दर्द करने पहुंचे थे। इस दौरान मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि तिरंगा हम सबके लिए है और तिरंगे का सम्मान करना हम सबका कत्र्तव्य है। 15 अगस्त और 26 को जनवरी हम राष्ट्रीय उत्सव के रूप में मनाते है, हमारी आने वाली पीढियां जो मदरसों में, स्कूलों में हैं वो भारत का भविष्य है, और उनको अपने क्रान्तिकारियों के बारे में, शहीदों के बारे में, देश की एकता अखण्डता के बारे में, अपने जो प्रतीक है उनके बारे में जानकारी देना सरकारों का नैतिक दायित्व है।

हम तिरंगे के नीचे सब एक है, यह लोग तंत्र का उत्सव है उसको हम सब मिलकर मनाते है कानून का कोई उल्लंघन करेगा तो निश्चित रूप से कानून अपना काम करेगा।

वहीं बुधवार को औरैया जिला में जिला पंचायत चुनाव के दौरान समाजवादी पार्टी और पुलिस के बीच हुई झडप के बाद आज पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सपा कार्यकर्ताओं से मिलने औरैया जा रहे थे पुलिस ने अखिलेश यादव को आगरा एक्सप्रेसवे पर गिरफ्तार कर लिया। इस बावत पूछे गए सवाल के जबाब में श्री शर्मा ने कहा कि वे पूर्व मुख्यमंत्री से वह अपील करते है कि वह समझदार है और उन्हें प्रदेश में शान्ति व्यवस्था बनाएं रखने में सहयोग करना चाहिए।

अगर वहां कुछ हुआ है, तो पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी अपना काम करेगेें। इसके अलावा आंगनबाडी कार्यकर्तियों के द्वारा विधानसभा के पास धरना देने और प्रदर्शन करने पर मंत्री ने कहा कि सरकार उनके बारे में सोच रही है। उनके लिए सरकार जल्द ही बेहतर फैसला लेगी। इसलिए आंगनवाडी कार्यकर्तियों को सब्र करना चाहिए।

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *