India  चीन से डोकलाम विवाद के हल के लिए बात-चीत करता रहेगा

नई दिल्ली। डोकलाम गतिरोध पर चीन से हल निकालने के लिए भारत बात-चीत जारी रखेगा, भारत ने इस मामले में जोर देते हुए कहा कि सौहार्दयपूर्ण द्विपक्षीय संबंधों के लिए पहली आवष्यकता सीमा पर शांति व धैर्य है।

एमईए के प्रवक्ता रवीष कुमार ने कहा कि हम पारस्परिक रूप से स्वीकार्य समाधान के लिए चीन से बात-चीत करना जारी रखेंगें। उन्होने यह बात इस मामले में किए गए ढेर सारे सवालों के जवाब में कहीं।

15 अगस्त को लद्दाख में चीनी जवानों व भारतीय सुरक्षा बल के बीच घटित हुयी घटना के मामले में पूछे गए सवाल पर एमईए प्रवक्ता ने कहा कि इस तरह की घटनाएं दोनों तरफ के लिए हितकारी नहीं हैं।

उन्होने कहा कि हाल ही में चीनी बल व भारतीय सीमा बल के बीच सीमाकर्मियों की मीटिंग(बीपीएम) आयोजित की गयी थी।
उन्होने कहा कि बीपीएम 16 अगस्त को चुषूल व एक सप्ताह पहले नाथु ला में आयोजित हुयी थी।

जब सवाल पूछा गया कि क्या चीन ने हाइड्रोलाॅजिकल डाटा (जल विज्ञान संबधी डाटा) भारत के साथ शेयर किया, जहां आसाम व बिहार को बाढ़ चपेट में लिए हुए है, इसके जवाब में कुमार ने कहा बीजिंग द्वारा ब्रम्हपुत्र नदी का इस तरह का कोई डाटा इस वर्ष नहीं दिया गया।

भारत व चीन मौजूदा तंत्र में हाइड्रोलाॅजिकल डाटा एक दूसरे को सौंपने की परम्परा है।

कुमार ने कहा कि हाइड्रोलाॅजिकल डाटा शेयर न करना कोई तकनीकी वजह हो सकती है, इसे वर्तमान के चीन से गतिरोध से नहीं जोड़ना चाहिए।

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *