Exclusive – डूब रही Mumbai  , भगवान गणेश व नौसेना कर रही पीड़ितो की सहायता

मुंबई । बारिश के लिए तरसते रहना और फिर उसी के चलते तकलीफें और मौत का डर। कुछ ऐसा ही मुंबई का हाल हो गया है। सोमवार शाम से हो रही मूसलाधार बारिश से मुंबई ठहर गयी। सड़कें अब चलने के लिए नहीं रूकावट का सबब बन गयीं। यही नहीं रेल व हवाई यातायात व्यवस्था भी चरमरा गयी। बारिश और हवा के झोंके जहां कभी खुशनुमा एहसास कराते थे अब उन्हीं के चलते सैकड़ों पेड़ धराशायी हो गए। वहीं नौसेना व गणेशोत्व के पंडाल पीड़ितों के लिए राहत शिविर बनकर उभरे हैं। 

जिसके बाद स्कूल—कॉलेज को बंद कर दिया गया है। शेयर बाजार अपना काम करते रहेंगे। बारिश की इस आपदा के चलते राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को लोगों से धैर्य बनाए रखने की अपील करनी पड़ी।

नौसेना कर रही जरूरतमंदों के नाश्ते की व्यवस्था, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में भारी बारिश की दी चेतावनी

सोमवार शाम से मूसलाधार बारिश में कुछ कमी आयी तो कुछ ट्रेनों ने चलना शुरू किया। लेकिन मौसम विभाग ने मुंबई वालों को डरा दिया है। उसने अगले 24 से 48 घंटों के भीतर भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है। एक तरफ कुर्ला से डोंबिवली की ओर सेन्ट्रल रेल सेवाएं फिर से बहाल की गयीं हैं वहीं दूसरी ओर अंधेरी से घाटकोपर के बीच भी मेट्रो सेवा शुरू कर दी गयी है। हालांकि यह बेहद हैरानी वाली बात है कि सीएसटी स्टेशन पर फंसे लोगों के भारतीय नौसेना ने नाश्ते का इंतजाम किया है।

जो लोग बारिश के कारण रात को ऑफिस में ही रुक गए थे, वे सुबह घर जाने के लिए निकले हैं। लेकिन स्थिति अभी भी खराब है। मुंबई की वेस्टर्न लाइन पर लोकल रेल सेवाएं शुरू हो गईं हैं। बारिश के कारण आज मुंबई के डब्बावाला आज काम नहीं कर सकेंगे क्योंकि कल डिलिवर किए हुए लंच बॉक्स वे अभी तक वापस नहीं ले सके हैं।

बारिश के चलते ढहा मकान , 3 की दर्दनाक मौत

मंगलवार को मुंबई में इस मूसलाधार बारिश के चलते मुंबई के उपनगर विक्रोली में दो घरों के ढहने से दो बच्चों सहित 3 लोगों की मंगलवार को मौत हो गई।

ऑटो और टैक्सी चालकों ने जलभराव में फंस जाने के डर से अपनी सेवाएं बंद कर दींं। ज्यादा जलभराव वाले स्थानों पर बेस्ट की बसें भी जानी बंद हो गईं। बांद्रा-वरली सी लिंक को तेज हवाओं एवं दृश्यता कम होने से कुछ समय के लिए बंद कर दिया गया था। परेल स्थित केईम अस्पताल के ग्राउंड फ्लोर पर पानी भरने के बाद करीब 30 मरीजों को अस्पताल की दूसरी मंजिल पर शिफ्ट किया गया।

P.M. ने मदद का दिया आश्वासन, कहा धैर्य बनाए रखें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडऩवीस से फोन पर बात कर उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। भारी बारिश के कारण महानगर की बिगड़ती स्थिति को देखते हुए फडऩवीस ने शाम को स्वयं आपदा प्रबंधन केंद्र जाकर स्थिति का जायजा लिया और आवश्यक निर्देश जारी किया। मुख्यमंत्री ने लोगों को अत्यावश्यक काम न होने तक बुधवार को घर से बाहर न निकलने की सलाह दी है।

rescue के लिए नौसेना के हेलीकॉप्टर तैयार

नौसेना ने किसी भी आपात स्थिति से निपटने के अपने हेलीकॉप्टर और गोताखोर तैयार रखे हैं। इस बीच एनडीआरएफ की दो टुकडिय़ों को मुंबई रवाना कर दिया गया है।

पीड़ितों के लिए खोले गए गणेशोत्सव के पंडाल

मुंबई में इन दिनों चल रहे गणेशोत्सव के बीच हो रही मूसलाधार बारिश के चलते पीड़ितो के लिए पंडाल खोल दिए गए हैं। उन्होंने दादर, परेल, सायन आदि स्टेशनों के बीच फंसे लोगों को अपने मंडल में भोजन और ठहरने की पेशकश की है। शहर के कुछ धार्मिक स्थलों की तरफ से भी ऐसे प्रस्ताव आए हैं। नवी मुंबई पुलिस ने मॉल प्रबंधकों से बारिश में फंसे लोगों को शरण देने की अपील की है।

मुंबई में बारिश 1 / mediaamantra.com
मुंबई में बारिश  / mediaamantra.com

हेल्पलाइन नंबर
सेंट्रल रेलवे ïकंट्रोल रूम- 022-22620173
वेस्टर्न रेलवे कंट्रोल रूम- 022-23094064
बीएमसी- 1916
व्हाट्सएप ट्रैफिक अपडेट-8454999999

मुंबई और ठाणे में भूस्खलन को लेकर अलर्ट
मुंबई और आसपास के इलाकों में पिछले तीन दिन से हो रही भारी बारिश को देखते हुए मुंबई और ठाणे में भूस्खलन को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। पुणे स्थित सेंटर फॉर सिटिजन साइंस (सीसीएस) ने भूस्खलन को लेकर चेतावनी जारी की है। इसके अनुसार, अनूप हिल, घाटकोपर (पश्चिम), कल्याण (पूर्व), विरार, जिबर्ट हिल, चेंबूर, पंजारपोल, नकाडीपाड़ा, बांदी और ठाणे एवं मुलुंड इलाके में भूस्खलन हो सकता है।

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *