कश्मीर में एन्काउन्टर- मारे गए तीन आतंकी, एक प्रदर्शनकारी भी मरा

pulwamaश्रीनगर। जम्मू कश्मीर को आतंक से मुक्त करने के भारतीय सुरक्षा बल के संकल्प का असर दिखने लगा है। एक के बाद एक एन्काउन्टर में मारे जा रहे आतंकी इसकी तस्दीक कर रहे हैं।

हाल के ताजा एन्काउन्टर में दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में अलकायदा से जुड़े संगठन, जाकिर मूसा नीत अंसार गजवत उल हिंद के तीन आतंकवादी मारे गये। मुठभेड़ स्थल के निकट प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच संघर्ष के दौरान पैलेट से घायल हुए एक किशोर की भी मौत हो गयी।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि त्राल के गुलाब बाग क्षेत्र में सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में एक गुप्त सूचना मिलने के बाद एक तलाशी अभियान चलाया। अभियान के दौरान छिपे हुए आतंकवादियों ने उन पर गोलीबारी की जो बाद में मुठभेड़ में बदल गयी।

उन्होंने बताया कि मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गये। मारे गये आतंकवादियों की पहचान जाहिद अहमद बट्ट, इश्फाक बट्ट और मोहम्मद अशरफ डार के रूप में हुयी हैं। मुठभेड़ स्थल के निकट प्रदर्शनकारियों और सुरक्षा बलों के बीच हुए संघर्ष के दौरान पैलेट से घायल 16 वर्षीय एक किशोर की मौत हो गयी।

अधिकारी ने बताया कि पैलेट से घायल मोहम्मद यूनिस को गंभीर हालत में यहां एसएचएमएस अस्पताल लाया गया जहां उसकी मौत हो गयी।

सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि मारे गये आतंकवादी के संबद्ध संगठन के बारे में पता नहीं चल सका है। हालांकि हिजबुल मुजाहिदीन ने दावा किया कि ये तीनों तथाकथित अंसार गजवत उल हिंद से कुछ समय तक जुड़े रहने के बाद इस संगठन में फिर से शामिल होने के लिए आ रहे थे।

हिजबुल मुजाहिदीन के एक प्रवक्ता ने फोन पर स्थानीय मीडिया को बताया कि जाहिद, इश्फाक और अशरफ जाकिर मूसा नीत समूह का हिस्सा थे और वे हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल होते लेकिन रास्ते में ही वे मुठभेड़ में मारे गये। प्रवक्ता ने बताया कि हिजबुल मुजाहिदीन के दरवाजे अंसार गजवत उल हिंद से जुड़े आतंकवादियों के लिए हमेशा खुले हैं।

मूसा ने हाल ही में हिजबुल मुजाहिदीन को छोड़ा था और कहा जाता है कि वह अन्य आतंकवादी संगठनों के संपर्क में हैं। वह हिजबुल के शीर्ष कमांडर बुरहान वानी का करीबी सहयोगी था। बुरहान वानी पिछले वर्ष मारा गया था और इसके बाद कश्मीर घाटी में सुरक्षा बलों के खिलाफ व्यापक विरोध प्रदर्शन होने लगे थे।

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *