Oxygen के चलते मौत हो तो यह गंभीर Crime-सिद्धार्थ नाथ सिंह

लखनऊ। उप्र के गोरखपुर स्थित बीआरडी मेडिकल कालेज में कथित रूप से आॅक्सीजन की कमी होने से मासूम बच्चों की हुई मौत के मामले में सूबे के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने माना है कि ऑक्सीजन के कारण किसी की मौत हो जाए यह गंभीर अपराध है। उन्होंने कहा कि जो चीजें सामने आ रही हैं, उसको लेकर जांच चल रही है। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ चिकित्सक भी इसकी जांच कर रहै हैं। उन्होंने कहा मेडिकल कालेज के प्रधानाचार्य का रवैया इस मामले में सही नहीं था, इसीलिए उन्हें हटाया गया।

इसके अलावा श्री सिंह ने बताया कि राज्य के सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों (सीएमओ) को निर्देश दिए गए हैं कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सभी सुविधायें उपलब्ध करायें।

श्री सिंह प्रदेष के सभी सीएमओ के साथ बुधवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम स्वास्थ्य सेवाओं की समीक्षा की। बाद में मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंह ने कहा कि बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों के हालातों के अद्यतन जानकारी ली जा रही है। उन्होंने कहा कि बाढ़ का जब पानी घटता है तो बीमारियां भी बढ़ती हैं। ऐसे में वहां टैबलेट्स भी बांटी जाएंगी।

इसके अलावा बाढ़ का पानी कम होने पर सांप भी ज्यादा आते हैं, इससे बचाव की भी पूरी व्यवस्था की गई है। वहीं पीने के लिए साफ पानी मिले इसके लिए क्लोरीन की गोलियां भी ज्यादा से ज्यादा दी जा रही हैं। साथ ही साथ ओआरएस किट सबके पास होनी चाहिए। दवाई खरीदने का हमारा बजट 500-600 करोड़ है।

250 करोड़ हमने सीएमओ को भेज दिया है। 400 दवाईयों को भी स्वीकृति दे दी गयी हैं। उन्होंने कहा कि ये दवाईयां सबको आसानी से मिलनी चाहिए। इसमें लापरवाही करने पर किसी को हम बख्शेंगे नहीं।

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *