आर्थिक सुधारों का भारत को मिलने लगा लाभ—IMF

इंटरनेशनल डेस्क। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) से भारत के लिए एक अच्छी खबर आयी है। आईएमएफ की एक रिपोर्ट की माने तो भारत द्वारा लागू किए गए आर्थिक सुधारों का परिणाम सामने आने लगे हैं।
यहीं नहीं आईएमएफ का मानना है कि इससे लोगों को भी फायदा हुआ है। इसी के साथ इस तरह के और कदम उठाने का आधार मजबूत हुआ है।
IMF के उप प्रबंध निदेशक (प्रथम) डेविड लिप्टन ने कहा कि कई अड़चनों के बावजूद माल व सेवाकर (जीएसटी) को लागू किए जाने से लोक वित्त का आधार मजबूत तथा सुरक्षित करने में मदद मिलेगी।

लिप्टन ने कहा कि बैंकों की समस्याओं से निपटने के लिए हाल में उठाए गए कदम भी महत्वपूर्ण हैं। डिजिटल पहचान तकनीक और अन्य ढांचागत सुधार इत्यादि उल्लेखनीय कदम है जो समावेशी वृद्धि और भारत को एक आर्थिक केंद्र बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण हैं।

आईएमएफ और विश्वबैंक की ग्रीष्मकालीन बैठक के अवसर पर उन्होंने कहा, ‘निश्चित रूप से अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है लेकिन भारत ने अब तक जो कदम उठाए हैं उनका फायदा दिख रहा है।’

उन्होंने कहा, ‘भारत के सुधारों का परिणाम अब सामने आ रहा है और इसे हम वृद्धि के रुप में देख सकते हैं। भारत की वृद्धि दर पिछले साल 6.7 प्रतिशत थी और अब हमारा अनुमान इस वित्त वर्ष में इसके 7.4प्रतिशत रहने और उसके अगले साल 7.8 प्रतिशत रहने का है। यह एक स्वस्थ वृद्धि है और इतने बड़े देश के लिए बहुत मायने रखती है।’

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *