Breaking News : 2019 का अर्द्धकुम्भ होगा ऐतिहासिक व Unique event – Yogi 

yogi on semi kumbh project
yogi on semi kumbh project

लखनऊ । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का दावा है कि वर्ष 2019 में आयोजित होने वाला अर्द्धकुम्भ ऐतिहासिक एवं Unique event के रूप में आयोजित किया जाएगा। यह आयोजन पूरी दुनिया के लिए आकर्षण का केन्द्र होगा।

अर्द्धकुम्भ-2019 को दिव्य एवं भव्यरूप से आयोजित किए जाने के लिए ही अभी से तैयारियां प्रारम्भ कर दी गयी हैं। मेले को सुव्यवस्थित एवं सुन्दर ढंग से आयोजित करने के लिए प्रयागराज मेला प्राधिकरण का गठन किया जाएगा।

जिसके द्वारा मेले केेेे आयोजन के लिए ठोस एवं स्थायी कार्यों को कराया जाएगा। उन्होने कहा कि श्रृद्धालुओं की सुविधा के लिए विशेष कार्य कराए जाएंगे। मेले का आयोजन इस तरह से होगा कि यह पूरी दुनिया के लिए आकर्षण का केन्द्र होगा।

510 करोड़ की 34 परियोजनाओं का किया शिलान्यास

Chief Minister  बुधवार को इलाहाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम में अर्द्धकुम्भ-2019 की तैयारियों के लिए 510 करोड़ रुपए की 34 परियोजनाओं का शिलान्यास किया।

इस मौके पर उन्होंने राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी उत्तर प्रदेश फसल ऋण मोचन योजना के तहत जनपद के 11,585 लाभार्थी किसानों को प्रमाण-पत्र भी वितरित किए।

इस योजना के तहत प्रथम चरण में कुल 13,156 किसानों को योजना से लाभान्वित कराते हुए प्रमाण-पत्र वितरित किया जाना है। जनपद में फसल ऋण मोचन योजना के तहत कुल 80,591 किसानों को लाभान्वित कराया जाएगा, जिसके क्रम में मुख्यमंत्री ने चयनित किसानों को प्रमाण-पत्र वितरित किए।

इस मौके पर C.M. ने कहा कि इलाहाबाद में 2500 CR की लागत से ठोस एवं स्थायी कार्य कराए जाएंगे। यह सभी कार्य अर्द्धकुम्भ-2019 को मद्देनजर रखते हुए कराए जाएंगे।

इलाहाबाद को लखनऊ तथा अन्य शहरों से वायुमार्ग से जोड़ा जाएगा और यह कार्य प्रत्येक दशा में अर्द्धकुम्भ मेले के आयोजन के पहले ही पूर्ण करा लिया जाएगा।

उन्होने ने अपने सम्बोधन में यह भी कहा कि प्रयागराज तीर्थ स्थल के साथ ही साथ श्रृंगवेरपुर ऐतिहासिक स्थल का भी विकास किया जाएगा। श्रृंगवेरपुर धाम के लिए 32 करोड़ रुपए स्वीकृत किया गया है, जिसका उपयोग करते हुए धाम को आधुनिक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। इससे समतामूलक समाज का संदेश जन-जन तक पहुंचेगा ।

उन्होने ने कहा कि चन्द्रशेखर आजाद पार्क तथा भारद्वाज पार्क में प्रवेश के लिए जनता को पैसा नहीं देना पड़ेगा। उन्होने कहा कि पार्क के रख-रखाव एवं सौन्दर्यीकरण का खर्च राज्य सरकार वहन करेगी।

आयोजित होने वाले अर्द्धकुम्भ मेले की भव्यता एवं दिव्यता तथा उसकी ऐतिहासिकता के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से उन्होंने कहा कि आज से इलाहाबाद सहित उत्तर प्रदेश में कोई भी कार्य शुरू होगा, तो उसमें अर्द्धकुम्भ मेले का ‘लोगो’ अवश्य अंकित रहेगा।

 

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *