C.M. Yogi   के साथ बैठक के बाद शिक्षा मित्रों का आंदोलन स्थगित

yogi-Shiksha

लखनऊ । सुप्रीम कोर्ट के शिक्षा मित्रों के सहायक शिक्षक के पद पर समायोजन के फैसले को रद करने के बाद से हिंसक आंदोलन पर उतर आये शिक्षा मित्रों ने मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बैठक की। बैठक के दौरान मुख्यमंत्री की ओर सार्थक आश्वासन  मिलने के बाद शिक्षा मित्रों ने अपने आन्दोलन को एक सप्ताह तक के लिए स्थगित करने का निर्णय लिया है।

शिक्षा मित्रों के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री श्री योगी के साथ करीब तीन घण्टे मैराथन बैठक की। वार्ता के समय बेसिक शिक्षा राज्य मंत्र अनुपमा जायसवाल भी मौजूद थीं। शिक्षा मित्रों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आश्वासन के बाद अपना अंदोलन एक हफ्ते तक के लिए स्थगित कर दिया।

मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद अब शिक्षा मित्र कल से स्कूल जाकर अपना काम करेंगे। मुख्यमंत्री योगी ने प्रतिनिधिमंडल से कहा कि वह इस बाबत प्रस्ताव लाने की कोशिश करेंगे। संगठन के नेताओं का कहना है कि अगर एक हफ्ते में भी कोई ठोस नीति नहीं बनी तो प्रदेश में फिर बड़ा आंदोलन शुरू होगा।

बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल ने कहा कि अब प्रस्ताव तैयार करने के बाद उसको कैबिनेट में लाया जायेगा। आदर्श समायोजित शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेंद्र शाही ने कहा कि सरकार पर हमें भरोसा है। विदित हो कि प्रदेश में शिक्षा मित्र बीते पांच दिन से जगह जगह पर काफी आंदोलन कर रहे हैं।

बीती 25 जुलाई को देश की सर्वोच्च अदालत ने प्रदेश में शिक्षा मित्रों के समायोजन को लेकर अहम फैसला सुनाया था, लेकिन प्रदेश के करीब 1.72 लाख शिक्षामित्रों को सुप्रीम कोर्ट का फैसला रास नहीं आया। जिसे लेकर अब तक कई बार शिक्षामित्रों द्वारा प्रदर्शन आदि किया जा चुका है।

12 सिंतबर 2015 को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश के करीब 1.72 लाख शिक्षामित्रों का सहायक शिक्षक के तौर पर समायोजन को निरस्त कर दिया था। इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई थी।

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *