भगवान शंकर की अलौकिक भस्म महाआरती

लखनऊ-महाशिवरात्रि के प्रथम प्रहार से डालीगंज स्थित मनकामेश्वर मठ-मंदिर हर हर महादेव एवं बमबम भोले के जयकारों के  साथ शिव आराधना मे लीन हो गया।  प्रातः 2 से सर्वप्रथम भगवान महादेव का स्नान 151 लीटर आदि माँ गोमती के चंद्रिकादेवी घाट से लाए जल से किया गया, तत्पश्चात दही, देसीघी, शहद, पांचवतत्व एवं पंचपुष्प मिश्रित जल से महादेव का महाभिषेक किया गया, प्रातः 2:30 पर नागा साधु वेशधर सेवादार बृजेश ने भगवान शंकर की भस्म महाआरती की इस भस्म आरती के तुरंत बाद मठ-मंदिर की महंत देव्यागिरि महाशिवरात्रि की प्रथम प्रातः कालीन मुख्य  महाआरती ढोल, ताशा, नागफनी, चिमटा, डमरू,  शंख व नगाड़े  आदि के धुन पर की, इस अवसर पर उपस्थित सेवादारों ने सफ़ेद धोती एवं त्रिपुण्ड टीके में अद्भुत छटा बिखेरी। आरती के तरुंत बाद ही मंदिर के कपाट भक्तगणों के दर्शन के लिए खोल दिए गए। पर्व की दूसरी आरती सायं  8 बजे हुई।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *