वेबसाइट हैक कर बिना भुगतान कर ई-टिकट कराने वाले गिरोह के चार सदस्य गिरफ्तार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने राज्य सड़क परिवहन निगम की वेबसाइट हैक करके भुगतान किये बगैर ई-टिकट बनाकर लाखों रुपये का नुकसान पहुंचाने वाले गिरोह का पर्दाफाश करके उसके चार सदस्यों को गिरफ्तार किया है। एक सिक्योरिटी टेस्टिंग साॅफ्टवेयर की मदद से परिवहन निगम के आॅनलाइन भुगतान प्रणाली की कमियों का फायदा उठाते हुए ई-टिकट बनाते थे।
एसटीएफ से मिली जानकारी के अनुसार कानपुर निवासी अमित कुमार और मुदित शर्मा तथा दो नाबालिग लड़कों को लखनऊ के वजीरगंज इलाके में गिरफ्तार किया। इन अभियुक्तों पर परिवहन विभाग की वेबसाइट को हैक कर बिना भुगतान किये ई-टिकट बनाकर विभाग को लाखों रूपये की क्षति पहुँचाने का आरोप है। उन्होंने बताया कि परिवहन निगम प्रशासन ने एसटीएफ के महानिरीक्षक अमिताभ यश से विभाग की वेबसाइट से बुक कराये गये टिकटों के एवज में अपेक्षित धनराशि नहीं मिलने की शिकायत की थी। मामले की जांच में पता लगा कि इस हरकत में शामिल गिरोह के सदस्यों ने व्हाट्सऐप और फेसबुक के जरिये हजारों लोगों से सम्पर्क बनाया है। एसटीएफ ने गहन पड़ताल के बाद गिरोह के सरगना अमित कुमार भारती को चिन्हित किया। अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया है कि वे एक सिक्योरिटी टेस्टिंग साॅफ्टवेयर की मदद से परिवहन निगम के आॅनलाइन भुगतान प्रणाली की कमियों का फायदा उठाते हुए ई-टिकट बनाते थे। इस दौरान वे निगम के भुगतान पुष्टि डेटा से छेड़छाड़ करते थे, जिससे निगम की वेबसाइट पर भुगतान सफलतापूर्वक सम्पन्न होने का संदेश तो आता था लेकिन निगम को धन नहीं मिल पाता था। गिरोह के सदस्य व्हाट्सऐप और फेसबुक पर बने ग्रुप्स की मदद से उन ई-टिकटों को सस्ते दामों का लालच देकर बेच देते थे।
Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *