सड़कों के माध्यम से देश की तस्वीर को बदलेंगे-गडकरी

लखनऊ। केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि भगवान श्रीराम हमारे आदर्श हैं तथा उनसे जुड़े हुए मार्ग का शिलान्यास करने पर वे गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। भगवान श्रीराम के साथ-साथ भगवान महावीर एवं भगवान गौतम बुद्ध से सम्बन्धित स्थलों पर भी कार्य किए जाने हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में सड़कों के निर्माण से राष्ट्र निर्माण को भी गति मिल रही है। वर्ष 2014 में जहां 7,611 किमी. राष्ट्रीय राजमार्ग थे, अब 14,800 किमी. राष्ट्रीय मार्ग हैं। सरकार का उद्देश्य सड़कों के माध्यम से देश की तस्वीर को बदलना है। यातायात की व्यवस्था को बेहतर करना तथा उत्तर प्रदेश के पश्चिमी, पूर्वी एवं मध्य भागों में सड़कों का जाल बिछाना सरकार का उद्देश्य है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एवं केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गड़करी ने मंगलवार को बस्ती जिले में 1015 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया। इसमें 55 किमी. लम्बे ऐतिहासिक महत्व वाले ‘रामजानकी मार्ग (एनएच 227-ए) का अयोध्या छावनी से लेकर रामपुर तक के हिस्से का 315 करोड़ रुपए की लागत से चैड़ीकरण एवं सुदृढ़ीकरण कार्य, 250 करोड़ रुपए की लागत से रामपुर से सिकरीगंज तक के 35 किमी. मार्ग का चैड़ीकरण एवं सुदृढीकरण तथा 450 करोड़ रुपए की लागत से 14 किमी. लम्बे बस्ती रिंग रोड (फेज-1) के निर्माण कार्य का शिलान्यास शामिल हैं। इस अवसर पर घाघरा नदी पर फैजाबाद से मंझी घाट तक 354 किमी. लम्बे राष्ट्रीय जल मार्ग-40 के विकास कार्य का भी शिलान्यास किया गया।

इस मौके पर केन्द्रीय मंत्री गडकरी ने कहा कि गंगा निर्मल योजना के तहत 225 करोड़ रुपए की लागत से कार्य शुरू हो चुका है। केन्द्र सरकार का उद्देश्य जल परिवहन को बढ़ावा देना भी है। इसके तहत वाराणसी से लेकर हल्दिया तक 07 जल पोर्ट बनाये जायेंगे। इस कार्य पर लगभग 1700 करोड़ रुपए की धनराशि का व्यय प्रस्तावित है। साथ ही, प्रयाग कुम्भ-2019 के लिए भी वहां पर पुल के निर्माण एवं अन्य आधारभूत संरचना के विकास के निर्देश दिये गये हंै। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश सरकार भारत को विकसित राष्ट्र बनाने के लिए कार्य कर रही हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रामजानकी मार्ग ऐतिहासिक ही नहीं, एक पौराणिक मार्ग भी है। इसके निर्माण के बाद मात्र साढ़े तीन घण्टे में अयोध्या से जनकपुर पहुंचा जा सकेगा। राज्य सरकार प्रदेश में बुनियादी सुविधाओं के विकास के लिए कृतसंकल्प है। उन्होंने कहा कि आज जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया है, उससे क्षेत्र के विकास को गति मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश के विकास हेतु प्रतिबद्ध है। राज्य सरकार द्वारा 1.20 लाख किमी. सड़कों को गड्ढामुक्त करने के साथ ही सभी तहसील मुख्यालयों को 02 लेन सड़कांे से जोड़ने का कार्य भी किया जा रहा है। प्रदेश सरकार का उद्देश्य धार्मिक, सांस्कृतिक, ऐतिहासिक और स्वतंत्रता संग्राम से जुड़े स्थानों का भी विकास करना है। इसी कड़ी में तपसीधाम, मखौड़ाधाम का भी विकास किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले सत्र में मुण्डेरवा चीनी मिल की शुरुआत भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि अब तक लगभग 37 हजार करोड़ रुपए का गन्ना मूल्य का भुगतान किया जा चुका है तथा शेष गन्ना मूल्य का भुगतान 30 नवम्बर, 2018 तक करने के निर्देश दिये गये हंै।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *