चचेरे भाई बहन ने फांसी पर लटक कर दी जान

जौनपुर । जिले के जफराबाद थाना क्षेत्र के कर्मही गांव में चचेरे भाई बहन ने फाँसी पर लटकर अपनी जान दे दी। रविवार की सुबह गाँव से कुछ दूर पर आम के पेड़ पर चचेरे भाई बहन की लाश देख कर मौके पर ग्रामीणों का जमावड़ा लग गया। जानकारी के अनुसार कर्मही गांव निवासी जमुना प्रसाद मिश्र के पांच पुत्रों में रामनिवास मिश्र दिल्ली में पान की दुकान चलाते है। उनका एकलौता पुत्र राघवेंद्र मिश्र (22) और उनके भाई रंगीले मिश्र की पुत्री जागृति मिश्र (20) रविवार सुबह गाँव से थोड़ी दूर एक आम के पेड़ पर फाँसी के फंदे में लटके पाये गए। गाँव के एक व्यक्ति ने तड़के इन दोनों की लाश को देखकर उनके परिजनों को सूचना दी।
सूचना पर परिजन तत्काल मौके पर पहुंच गए। वहीं मौके पर पहुुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस के मुताबिक फांसी लगाने के पूर्व दोनों ने संभवतः जहर भी खाया था। मौके पर एक शीशी मिली है। क्षेत्र के लोग घटना को लेकर तरह तरह की चर्चा कर रहे हैं। दबी जुबान से लोग इसे प्रेम प्रसंग से जुड़ा मामला बता रहे हैं। परिजनों ने बताया कि शहर मुख्यालय के तिलकधारी महाविद्यालय में बीए प्रथम वर्ष की छात्रा थी। जागृति तथा राघवेंद्र ने घर मे चल रही दुर्गा पूजा की आरती के बाद रात को लगभग दस बजे घर पर थे। उसके बाद सब सोने चले गए। रविवार सुबह 200 मीटर दूर आम के पेड़ पर जाकर एक प्लास्टिक की रस्सी के दोनों सिरे से फंदा बनाकर फाँसी लगाकर आत्महत्या करने की सूचना मिली।
Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *