पुलिसिया रवैये से क्षुब्ध मुस्लिम परिवार के 13 सदस्यों ने स्वीकारा हिंदू धर्म

बागपत उप्र के बागपत जिले में पुलिस के रवैये से क्षुब्ध एक मुस्लिम परिवार ने कथित रुप से हिंदू धर्म स्वीकार कर लिया। हिंदू युवा वाहिनी (भारत) की देखरेख में मंगलवार को धर्मगुरु ने इस परिवार के 13 लोगों को हवन कराकर विधिवत रूप से हिंदू धर्म मंे शामिल किया गया। धर्म परिवर्तन करने वालों ने जिले के एसडीएम को शपथ पत्र भी सौंप दिए हैं। जिसकी पुष्टि जिलाधिकारी बागपत ने की है।

युवा हिंदू वाहिनी (भारत) के प्रदेश अध्यक्ष शौकेंद्र खोखर के मुताबिक छपरौली थाने के बदरखा निवासी अख्तर पिछले छह-सात माह से बागपत कोतवाली क्षेत्र के निवाड़ा गांव के खुब्बीपुरा मोहल्ला में रह रहे है। अख्तर का कहना है कि कई माह पहले उसके बेटे गुलहसन की हत्या कर दी गई थी। आत्महत्या का रूप देने के लिए शव फांसी पर लटका दिया गया था। बार-बार गुहार के बावजूद पुलिस ने भी इसे विवेचना में आत्महत्या मान लिया। बागपत कोतवाली पुलिस से उन्हें न्याय नहीं मिला। सोमवार को अख्तर परिवार के साथ तहसील पहुंचा और एसडीएम को शपथ पत्र दिया। शपथ पत्र में उसने कहा है कि उसके परिवार के सभी स्वेच्छा से हिंदू धर्म स्वीकार कर रहे हैं। उन्होंने अपने नाम भी बदल लिए हैं। इस दौरान उन्होंने अपने गले में भगवा पटके भी डाल रखे थे और जय श्रीराम का उद्घोष कर रहे थे। युवा हिंदू वाहिनी (भारत) के प्रदेष अध्यक्ष खोखर के अनुसार मंगलवार सुबह बदरखा गांव में हवन और हनुमान चालीसा का पाठ हुआ। इसमें विधि-विधान के साथ 13 लोंगो ने जो एक ही मुस्लिम परिवार के हैं ने हिंदू धर्म स्वीकार किया। इनमें अख्तर अली, नफीसा, जाकिर, दिलशाद, नौशाद और इरशाद और अन्य परिवार के लोग शामिल है। इन्होंने बताया कि वें मुस्लिम धर्म छोड़कर हिंदू धर्म स्वीकार कर रहे हैं।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *