मेहनतकश किसान समाज का अपमान है किसान सम्मान योजना-मायावती

लखनऊ । बहुजन समाज पार्टी के मुखिया मायावती ने रविवार को कहा कि मेहनतकश किसान को थोडी सी सरकारी मदद देने की भाजपा सरकार की सोच ‘अहंकारी’ है।

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा गोरखपुर में आरम्भ की गई ‘प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना’ को मेहनतकश किसान समाज का सम्मान नहीं बल्कि अपमान बताया।

बसपा मुखिया ने रविवार को यहां जारी बयान में कहा कि किसान देश का सबसे बड़ा मेहनतकश समाज है। उन्हें थोड़ी सी सरकारी मदद देने की भाजपा सरकार की सोच अनुचित ही नहीं बल्कि अहंकारी है।

उन्होंने कहा कि यह खेती, किसानी व किसान की दिन-प्रतिदिन गंभीर होती जा रही समस्याओं से निपटने के मामले में भाजपा सरकार की छोटी व अपरिपक्व सोच का जीता-जागता प्रमाण है और इससे किसान समाज को सतर्क रहने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि पीएम किसान सम्मान निधि के तहत कुछ किसानों को तीन किश्तों में सालाना मात्र 6,000 रुपया देना किसानों का खुला अपमान है। किसान देश का सबसे बड़ा मेहनतकश समाज है। इनको थोड़ी सी सरकारी मदद देने की भाजपा सरकार की सोच अनुचित ही नहीं बल्कि अहंकारी है।

किसान समाज सबसे पहले अपनी फसल का लाभकारी मूल्य चाहता है और इस वायदे को पूरा करने में पर भाजपा सरकार विफल साबित हुई है।

बसपा नेत्री मायावती ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को नोटबन्दी व जीएसटी आदि की तरह ही अपरिपक्व तौर पर आपाधापी में लागू करके किसानों को मात्र 500 रुपया प्रति माह देना भाजपा की छोटी सोच का द्योतक है।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *