किसानों के लिए संघर्ष भविष्य में भी जारी रहेगा-राहुल गांधी

rahulgandhi

लखनऊ । भूमि अधिग्रहण से हलकान उप्र विशेषकर अमेठी के किसानों की समस्याओं को लेकर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार को राजधानी के संक्षिप्त दौरे पर पहुंचे।

यहां उन्होंने नेशनल  हाईवे अथारिटी आफ इण्डिया (एनएचएआई) के क्षेत्रीय कार्यालय पहुंचकर ज्ञापन सौंपा और वापस दिल्ली लौट गए। इस दौरान हवाई अड्डे पर श्री गांधी ने कहा कि मैने हमेशा किसानों और मजदूरों के लिये संघर्ष किया है और भविष्य में भी करता रहूंगा।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि एनएचएआई ने उचित मापदंडों का पालन नही किया। किसानों को न तो उचित मुआवजा दिया गया और न ही पूर्व में कोई नोटिस दी गयी। अधिकारियों ने कहा है कि मापदंडों का पालन किया जाना चाहिए और उनकी संपत्तियों का अधिकरण करने से पहले उन्हे नोटिस और मुआवजा दिया जाना चाहिए।

श्री गांधी ने उम्मीद जताई कि अधिकारी किसानों की बात को समझेंगे। यह परेशानी पूरे यूपी की है। अम्बेडकर नगर के किसानों के मुद्दे को लेकर एएनएचआई के अधिकारियों से मुलाकात कर उनकी परेशानी से अवगत कराया है।

इससे पूर्व कांग्रेस उपाध्यक्ष गोमती नगर स्थित एनएचएआई के महाप्रबंधक से मिलकर किसानों की समस्याओं पर बात की। उन्होंने एनएचएआई के महाप्रबंधक राजीव अग्रवाल को ज्ञापन भी सौंपा। कांग्रेस का आरोप है कि अंबेडकरनगर में गांव वालों के घर बगैर कानूनी नोटिस दिए गिराए जा रहे हैं।

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र अमेठी के जगदीशपुर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर निर्माण के लिए हो रहे जमीन अधिग्रहण से प्रभावित किसानों से मुलाकात की और उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन दिया। जगदीशपुर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर फोरलेन के निर्माण कार्य के लिए 24 मीटर तक जमीन अधिग्रहित की जा रही है जबकि बाकी स्थानों पर 13-13 मीटर ही जमीन अधिग्रहित की गई है।

एनएचएआई के रवैये से करीब 800 किसान परिवार प्रभावित हुए हैं। राहुल गांधी के साथ कांग्रेस यूपी के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर और नेता जतिन प्रसाद भी मौजूद थे। अमौसी एयरपोर्ट पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर के साथ ही विधान परिषद सदस्य दीपक सिंह ने राहुल गांधी का स्वागत किया।

वहीं एनएचएआई के महाप्रबंधक राजीव अग्रवाल ने पत्रकारों को बताया कि कांग्रेस उपाध्यक्ष ने ज्ञापन में अमेठी जिले के जगदीशपुर क्षेत्र के राष्ट्रीय राजमार्ग 56 का मामला उठाया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में जगदीशपुर के दौरे के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। उन्होने कहा कि आगामी तीन दिनों के भीतर इस मामले की जांच की जायेगी। किसानों की जमीन का उचित मूल्य दिया जायेगा।

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *