कन्नौज वरगॉवा का “रामसिंह” बन गया “पीपली लाइव” का “नत्था”। DM की संवेदनशीलता और मीडिया मंत्रा की खबर का असर, स्वच्छता मिशन को नए आयाम


कन्नौज(दीपक पाठक) – महज 24 घंटे पहले जिस शख़्स को दर- बदर फरियाद करते देखा जा रहा था और ग्राम प्रधान से लेकर अदने से सरकारी कर्मी उसकी बात भी सुनने को तैयार नही थे सिर्फ 24 घंटे के अंदर ही न सिर्फ उसकी फरियाद पूरी हुई बल्कि बल्कि उसके ही गांव में सरकारी आयोजन कर जिले के कलेक्टर से लेकर जिले के कप्तान समेत आला अधिकारी उस शख्स को सम्मानित कर रहे थे,सिर्फ यही नही जिलाधिकारी की पत्नी ने रक्षाबंधन के इस मौके पर उस फरियादी को राखी बांधकर जैसे उसके जीवन की सारी मुरादें एक पल में पूरी कर दी। ये कहानी किसी फिल्मी पर्दे की नही वरन यूपी के कन्नौज जिले में हुई हकीकत की घटना है।हालांकि कुछ बर्ष पहले हिंदी में एक चर्चित फिल्म आयी थी “पीपली लाइव” जिसमे पीपली गांव का एक ग्रामीण नत्था जब सरकारी तंत्र से अपने मुआवजे की गुहार लगाते लगाते थक हार जाता है तो उसके आत्महत्या की खबर मीडिया का पत्रकार प्रचारित कर देता है और रातों रात पीपली गांव समेत नत्था पूरे मीडिया में छा जाता है,जिसके बाद सरकारी अमला हरकत में आता है और फरियादी नत्था के पास सरकार खुद पहुंचती है,और नत्था के जीवन का काया कल्प हो जाता है।ये तो थी रुपहले पर्दे की दास्तां लेकिन हकीकत में आज कमोवेश ऐसा ही घटित हुआ जिला कन्नौज में जहां एक दिव्यांग लम्बे समय से ग्रामीण स्वच्छ भारत अभियान में सरकारी योजना के तहत महज एक शौचालय के लिए गांव के प्रधान से लेकर थाना पुलिस और जिले के अधिकारियों तक अपनी गुहार लगाता भटक रहा था लेकिन हर जगह उसके हाथ आती थी सिर्फ नाउम्मीदी।इसी प्रयास में रामसिंह की मुलाकात हुई मीडिया मंत्रा न्यूज़ पोर्टल के पत्रकार से हुयी और जब मामले की गंभीरता को समझते हुए पत्रकार ने इस खबर को ब्रेक किया तो कन्नौज के संवेदनशील जिलाधिकारी जगदीश प्रसाद ने खबर का संज्ञान लेते हुए तत्काल सरकारी अमले के पेंच कसे और 3 दिन के अंदर पीड़ित रामसिंह को शौचालय तैयार कर देने का वादा किया।बस फिर क्या था इस खबर को मानो पंख लग गए और पूरी मीडिया खबर का अपडेट जानने में जुट गई,वहीं दूसरी ओर जिलाधिकारी रात तक अपडेट लेते रहे और देर रात जिलाधिकारी ने फैसला किया कि अगली सुबह ही न सिर्फ फरियादी को शौचालय पूरा तैयार कर दिया जाएगा बल्कि उसके गांव में ही जिलाधिकारी समेत जिले का अमला पहुंचकर रामसिंह को सम्मानित करेंगे।           IMG-20170807-WA0258IMG-20170807-WA0267IMG-20170807-WA0266IMG_-54z6o2


सुबह होते होते जिले का सरकारी गाड़ियां मुख्यालय से फरियादी के गांव वरगांवा की तरफ दौड़ती नज़र आयी ,और दोपहर जिलाधिकारी महोदय अपनी पत्नी और जिले के आला अधिकारियों समेत गांव में लगी चौपाल में फरियादी रामसिंह को सम्मानित कर रहे थे इतना ही नहीं जिलाधिकारी ने समारोह में “शौचालय जरूरी क्यों” विषय पर ग्रामीणों को जागरुक कर “कन्नौज गंदगी छोड़ो” का नारा भी दिया उन्होंने कहा कि केंद्र व प्रदेश सरकार स्वच्छता पर बल दे रही है साथ ही भ्रष्टाचारियों पर भी लगातार शिकंजा कसा जा रहा है।तत्पश्चात जिलाधिकारी जगदीश प्रसाद ने पुलिस अधीक्षक हरीश चन्दर के साथ दिव्यांग रामसिंह के शौचालय का फीता काटकर उद्घाटन करते हुए रक्षाबंधन के पर्व पर उपहार स्वरूप राखी शौचालय की भेंट दी, साथ ही दिव्यांग रामसिंह को परिवार सहित शौचालय लेने की लगन और तत्परता के लिए शुभकामनाएं भी दी। सिर्फ यही नही जिलाधिकारी की पत्नी ने ग्रामीण रामसिंह को रक्षाबंधन के मौके पर राखी बांधकर एक ऐसा सम्मान दिया की रामसिंह के गले की आवाज़ रुंध गयी,उसके अब भी सब कुछ स्वपन सरीखा लग रहा था ।लेकिन था सबकुछ हकीकत……..

Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *