हमारी लड़ाई सिर्फ भाजपा से, उसकी किसी टीम से नहीं-अखिलेष

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने सपा से अलग होकर नयी पार्टी बनाने वाले अपने चाचा शिवपाल सिंह यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी को परोक्ष रूप से भाजपा की सहयोगी टीम करार दिया। साथ ही उन्होंने बगावती तेवर अपनाने के बाद भी उनके खिलाफ कोई कार्रवाई करने से एक तरह से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि सपा कोई भी ऐसा काम नहीं करेगी, जिससे अन्याय दिखायी दे।

शुक्रवार को यहां संवाददाताओं से बातचीत के दौरान पूछे गए सवाल के जवाब में सपा मुखिया ने अपने चाचा की पार्टी को परोक्ष रूप से भाजपा की सहयोगी करार दे दिया। उन्होंने कहा कि सपा की लड़ाई सिर्फ भाजपा से है, और भाजपा की किसी भी ए, बी, सी, डी, ई, एफ, जी, एच, वाली टीम से लड़ाई नहीं है। विदित हो कि अखिलेश के सपा अध्यक्ष बनने के बाद हाशिये पर पहुंचे उनके चाचा शिवपाल ने ‘अन्याय‘ से नाराज होकर गत 29 अगस्त को समाजवादी सेक्युलर मोर्चा गठित किया था, जो चुनाव आयोग में पंजीयन के बाद ‘प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया‘ हो गयी है। आगामी लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की सभी 80 सीटों पर चुनाव लड़ने का एलान करने वाले शिवपाल ने काफी तेजी से अपने संगठन का विस्तार किया है।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *