बिहार-यूपी में कर देंगे बीजेपी का सफाया: तेजस्वी यादव

लखनऊ। बिहार राज्य के प्रमुख विपक्षी दल राष्ट्रीय जनता दल के नेता एवं वहां के पूर्व मुख्यमंत्री रहे तेजस्वी यादव ने उप्र में समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन पर मुहर लगाते हुए कहा कि वह इस गठबंधन का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि बिहार में हमारा गठबंधन और उप्र में सपा-बसपा का गठबंधन भाजपा का सफाया कर देगा।
अपने दो दिवसीय दौरे पर लखनऊ आये लालू यादव के पुत्र तेजस्वी यादव ने रविवार देर रात बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती से मुलाकात करने के बाद सोमवार को समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव से मुलाकात की। दोनों नेताओं ने एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस भी की, जिसमें तेजस्वी यादव ने दावा किया कि वह सपा-बसपा गठबंधन का समर्थन करते हैं। कांग्रेस को गठबंधन में शामिल न करने पर तेजस्वी ने कहा कि यूपी में बीजेपी को हराने के लिए सपा-बसपा ही काफी हैं। तेजस्वी यादव ने कहा कि आज देश में इमरजेंसी जैसे हालात हैं। नौजवान बेरोजगार है और किसान हताश है। अखिलेश और मायावती को बधाई देते हुए तेजस्वी ने कहा कि लालू जी ने जो कल्पना की थी, वह अब जाकर साकार हुई है। उन्होंने कहा कि कभी अंग्रेजों की गुलामी करने वाले आज देश की सत्ता पर काबिज हो चुके हैं। आज संघ के एजेंडे पर संविधान से छेड़छाड़ हो रही है। उन्होंने दावा किया कि यूपी-बिहार से बीजेपी का सफाया तय है।
राजद नेता तेजस्वी ने कहा कि उत्तर प्रदेश की 80, बिहार की 40 और झारखंड की करीब 14 सीटें अगर बीजेपी को मात देती हैं तो वह स्वतः ही 100 सीटों से कम पर पहुंच जाएगी। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोगों ने बड़े-बड़े सपने दिखाने के काम किए, बिहार के चुनाव में बोली लगाई गई, लेकिन जो स्पेशल पैकेज का ऐलान किया गया, उसका कुछ नहीं हुआ। उन्हांेने कहा कि मायावती और अखिलेश यादव ने जो कदम उठाया है, उससे देश नागपुरिया कानून से बच जाएगा। उन्होंने कहा कि सीबीआई-ईडी अब बीजेपी के पार्टनर हैं, लालू जी भी इसी वजह से जेल में हैं। कांग्रेस के गठबंधन में शामिल ना होने पर उन्होंने कहा कि सबका मकसद बीजेपी को हराना है, लेकिन बीजेपी को हराने के लिए सपा-बसपा ही काफी हैं।
वहीं सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि तेजस्वी यादव ने गठबंधन करने के लिए जो बधाई दी है, उसके लिए धन्यवाद है। आज देश में किसान, नौजवान, व्यापारी सभी दुखी हैं. उन्होंने कहा कि आज यूपी में जो गठबंधन हुआ है, उससे पूरे देश में खुशी है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बीजेपी का संदेश देते हैं, वो कहते हैं कि ठोंक दो, मुख्यमंत्री सांप-छछूंदर की भाषा का उपयोग करते हैं। अखिलेश ने योगी आदित्यनाथ को भी जवाब दिया, उन्होंने कहा कि हमारी सरकार थोड़ी जा रही है कि हम नाक रगड़ें, जिनकी सरकार जा रही है वो लोग नाक रगड़े।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *