बसपा किसी भी राज्य में कांग्रेस के साथ नहीं करेगी तालमेल

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमों मायावती ने लोकसभा चुनाव की रणभेरी बनजे के साथ ही पूरी तरह से साफ कर दिया कि लोकसभा चुनाव में पार्टी किसी भी राज्य में कांग्रेस पार्टी के साथ किसी भी प्रकार का, कोई भी चुनावी समझौता अथवा तालमेल करके यह चुनाव नहीं लड़ेगी।

बसपा नेत्री ने मंगलवार को यहां पार्टी नेताओं के साथ बैठक की। पार्टी द्वारा जारी बयान में कहा गया कि इन बैठकों में उन राज्यों में भी पार्टी की तैयारियों की विशेष समीक्षा की गई जिन राज्यों में बसपा पहली बार गठबंधन करके लोकसभा का आमचुनाव लड़ रही है। जैसे बसपा व सपा का उत्तर प्रदेश के साथ-साथ पड़ोसी राज्य उत्तराखण्ड व मध्य प्रदेश में भी आपसी समझ व सूझबूझ के साथ समझौता हुआ है जबकि हरियाणा व पंजाब राज्य में वहाँ कि स्थानीय पार्टी के साथ समझौता तय है।

बैठक में एक बार फिर स्पष्ट किया गया कि बसपा किसी भी राज्य में कांग्रेस पार्टी के साथ किसी भी प्रकार का, कोई भी चुनावी समझौता अथवा तालमेल आदि करके यह चुनाव नहीं लड़ेगी।

उन्होंने कहा कि बसपा व सपा का गठबंधन दोनों तरफ से आपसी सम्मान व पूरी नेक नीयती के साथ काम कर रहा है और उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड व मध्य प्रदेश में यह फरसट व परफेक्ट एलायन्स माना जा रहा है जो सामाजिक परिवर्तन की जरूरतों को भी पूरा करता है तथा बीजेपी को परास्त करने की क्षमता रखता है जिसकी देशहित में आज की आवश्यकता है।

 

मायावती ने बयान में दावा किया कि बसपा से चुनावी गठबंधन के लिये कई पार्टियाँ काफी आतुर हैं, लेकिन थोड़े से चुनावी लाभ के लिये हमें ऐसा कोई काम नहीं करना है जो पार्टी मूवमेन्ट के हित में बेहतर नहीं है।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *