प्रियंका के आने से यूपी में आएगी नये तरीके की सोच-राहुल

अमेठी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बहन प्रियंका वाड्रा को पार्टी महासचिव एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रभारी बनाये जाने की घोषणा के बाद यहां कहा कि उनके (प्रियंका) आने से उत्तर प्रदेश में एक नये तरीके की सोच आएगी और राजनीति में ‘सकारात्मक’ बदलाव आएगा।

उन्होंने कहा कि मैंने उत्तर प्रदेश में प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिशन दिया है कि वे राज्य में कांग्रेस की सच्ची विचारधारा, गरीबों और कमजोर लोगों की विचारधारा,. सबको आगे लेकर बढने की विचारधारा को आगे बढायें।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि इस फैसले से उत्तर प्रदेश में नये तरीके की सोच आएगी और राजनीति में सकारात्मक बदलाव आएगा।

उन्होंने कहा कि मुझे पूरा भरोसा है कि प्रियंका और ज्योतिरादित्य काम करेंगे और जो उत्तर प्रदेश को चाहिए, जो उत्तर प्रदेश के युवा को चाहिए, वह कांग्रेस पार्टी दे सकती है। हम कहीं भी बैकफुट पर नहीं खेलेंगे। हम राजनीति जनता के लिए, विकास के लिए करते हैं। जहां मौका मिलेगा, हम फ्रंटफुट पर खेलेंगे।

उन्होंने कहा कि वह बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा मुखिया अखिलेश यादव का पूरा आदर करते हैं। कांग्रेस और सपाकृबसपा की विचारधारा में काफी समानताएं हैं। हमारी लडाई भाजपा के खिलाफ है। सपा और बसपा के साथ हमारा जहां भी सहयोग हो सकता है, हम करने को तैयार हैं। जहां भी हम भाजपा को हराने के लिए एक साथ काम कर सकते हैं, करेंगे।

साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मगर कांग्रेस पार्टी की जगह बनाने का काम हमारा है। हमने ये जगह बनाने के लिए बडा कदम उठाया है। मुझे काफी खुशी हो रही है कि मेरी बहन, जो बहुत कर्मठ है, मेरे साथ अब काम करेगी। ज्योतिरादित्य भी उर्जावान युवा नेता हैं।

उन्होंने कहा कि हम उत्तर प्रदेश की जनता को, युवा को, किसान को कहना चाहते हैं कि बहुत समय आपने समय जाया किया। आपने यहां भाजपा की सरकार बना रखी है। पूरा उत्तर प्रदेश जानता है कि भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश को बर्बाद कर दिया।

उल्लेखनीय है कि प्रियंका को कांग्रेस महासचिव नियुक्त करने के साथ साथ पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रभार सौंपा गया है जबकि ज्योतिरादित्य सिंधिया को पश्चिमी उत्तर प्रदेश का प्रभारी बनाया गया है।

Share this

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *