‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की आड़ में घिनौनी राजनीति कर रही है भाजपा सरकार-मायावती

लखनऊ । बहुजन समाज पार्टी की मुखिया एवं पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार लोकसभा के आमचुनाव नजदीक आते हुये देखकर, ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की आड़ में घिनौनी राजनीति कर रही है।
इसके अलावा उन्होंने कहा कि चुनाव नज़दीक देख अब भाजपा को अपने देश में समय-समय पर दलितों एवं अन्य पिछड़े वर्गों में जन्मे महान सन्तों, गुरूओं व महापुरूषों की भी याद आने लगी है।
बसपा नेत्री मायावती ने शुक्रवार को यहां जारी बयान में कहा कि सेना के जवानों ने पाकिस्तान अधिकृत कष्मीर में घुसकर व वहां पल रहे आतंकवादियों का जो सफाया किया तो उन बहादुर जवानों की सभी ने काफी तारीफ भी की है और इनके देशहित में इस किये गये सराहनीय कार्य की पुष्टि के लिये किसी ने भी न तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व उनकी सरकार से और न ही सेना के वरिष्ठ अधिकारियों से भी इसका कोई सबूत मांगा है अर्थात इस ‘‘सर्जिकल स्ट्राईक’’ को लेकर किसी ने भी अपना ‘‘सन्देह’’ ज़ाहिर नहीं किया है।
लेकिन फिर भी देश में बिना पूरी तैयारी के ख़ासकर ‘‘नोटबन्दी व जी.एस.टी’’. को लागू करने वाली वर्तमान केन्द्र की भाजपा सरकार अब अपने आपको हर मोर्चे पर फेल होते हुये देखकर आमजनता का ध्यान बांटने के लिये जो इन्होंने ‘‘सर्जिकल स्ट्राईक’’ के काफी समय बीत जाने के बाद, इसको लेकर खुद अपने आप ही, इसकी वीडियो जारी किया।
उन्होंने कहा कि यह सब इनका अपने राजनैतिक स्वार्थ में यह घिनौना राजनैतिक षड़यन्त्र व हथकण्डा है।
बसपा मुखिया ने कहा कि इसके अलावा अब इनको लोकसभा आमचुनाव होने के नज़दीक अपने देश में समय-समय पर दलितों एवं अन्य पिछड़े वर्गों में जन्मे हमारे महान सन्तों, गुरूओं व महापुरूषों की भी याद आने लगी है जिनके बताये हुये रास्तों पर चलकर, कांग्रेस पार्टी एण्ड कम्पनी के लोगों की तरह बीजेपी एण्ड कम्पनी के लोगों ने भी, कभी भी, इन वर्गों के विकास व उत्थान की तरफ पूरी ईमानदारी व निष्ठा से ध्यान नहीं दिया है बल्कि हमेशा इनका तिरस्कार ही करते रहे हैं।
इसलिये इनके यह सब हथकण्डे व षडयन्त्र अब इनको दोबारा से केन्द्र की सत्ता में किसी भी कीमत पर आसीन नहीं होने देगा, ऐसा मुझे देश की जनता पर पूरा-पूरा भरोसा भी है।
Share this

media mantra news

Technology enthusiast

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *